Top
Action India

शिवरात्रि पर छोटी काशी कहे जाने वाले फर्रुखाबाद में शिवालयों में उमड़े शिव भक्त

शिवरात्रि पर छोटी काशी कहे जाने वाले फर्रुखाबाद में शिवालयों में उमड़े शिव भक्त
X

पुथरी शिव मंदिर सहित प्रमुख शिवालयों में पूजा अर्चना का दौर शुरु, सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त

फर्रुखाबाद। एएनएन (Action News Network)

जिले में महाशिवरात्रि पर शिव मंदिरों में भोर से ही पूजा अर्चना शुरु हो गई है। वैसे तो जिले भर के शिव मंदिरों में आस्था का सैलाब उमड़ा नजर आ रहा है। सबसे ज्यादा भीड़ शहर के पांडेश्वर नाथ मंदिर व पुथरी के शिव मंदिर पर लगी हुई है। शिव भक्तों की सुरक्षा के यहां व्यापक इंतजाम किए गए हैं। पांडेश्वर नाथ मंदिर पर दूरदराज से आये शिव भक्तों को जलाभिषेक करने के लिए मानसरोवर का जल निशुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है।

बताते चलें कि, जहां पुथरी का शिव मंदिर तीन सौ साल पुराना है। वही पांडेश्वर नाथ मंदिर का इतिहास महा भारत काल से जुड़ा हुआ है। पांडवों की तपस्थली रहे पंडा बाग में बने इस मंदिर में शिव लिंग की स्थापना पांडवों के गुरु द्रोणाचार्य ने की थी। इस वजह से यहां प्रदेश भर से शिव भक्त आकर शिव रात्रि के दिन पूजा अर्चना कर मनोती मांगते हैं।

आज सुबह से ही शिव मंदिरों में हर-हर महादेव, बम-बम भोले की गूंज सुनाई दे रही है। प्रमुख मंदिरों में सुबह चार बजे से ही लोग कतारबद्ध होकर अपने आराध्य भगवान भोलेनाथ का दर्शन कर रहे है। उनको जल और दूध से अभिषेक करके बेलपत्र, धतूरा, बेर, भांग, मिष्ठान और पुष्प अर्पित कर रहे हैं। हर बड़े छोटे मंदिर में पूजन-अर्चन और दर्शन का माहौल चल रहा है। मंदिरों में शिव भगवान के कीर्तन हो रहे हैं।

कावड़िये गंगाजल लेकर आ रहे हैं। ऐसा विश्वास है कि शिव रात्रि पर भगवान शिव के दर्शन करने से हर मनोकामना पूरी होती हैं। शिवरात्रि के अवसर पर बम-भोले-बम-भोले के जयकारे लगाते हुए कांवड़िएं जल लेकर मंदिरों में पहुंच रहे हैं। इस मौके पर समुचित सुरक्षा व्यवस्था और सौहार्द बनाये रखने के लिए मंदिरों पर पुलिस बल मुस्तैद हैं। जनपद के शिवालयों की भरपूर सुरक्षा के बंदोबस्त हैं। शहर के पाण्डेश्वर नाथ मंदिर में तो भीड़ देखने लायक है।

भीड़ को देखते हुए बड़े एवं छोटे वाहनों के प्रवेश पर रेलवे रोड पर रोक लगा दी गयी है। इसके अलावा घुमना कोतवाली के पीछे कोतवालेश्वेर मंदिर, तामेश्वर मंदिर, रामेश्वर मंदिर कम्पिल, मनकामेश्वर मंदिर, मोटेमहादेव मंदिर , द्वादस ज्योतिर्लिंग कोटपार्चा व पण्डाबाग में श्रधालुओं की भीड़ देर रात से ही आना शुरु हो गयी। इन सब मंदिरों में विशेष सुरक्षा के प्रबंध और पूजन-अर्चन के खास इंतजाम किये गए हैं। पुथरी मंदिर पर भक्तों की भीड़ बढ़ना शुरू हो गया है।

इसी तरह सेन्ट्रल जेल रखा रोड पर बने शिव शक्ति महाकाल मंदिर में जमकर भीड़ उमड़ी हुई है। जनपद में शिव मंदिरों की संख्या अधिक होने से इसे छोटी काशी कहा जाता है। भगवान शिव की पौराणिक कथाओं में से कई जनपद के मंदिरों से भी ताल्लुक रखती हैं। पुलिस कप्तान अनिल कुमार मिश्रा ने बताया कि जिले भर में पूजा अर्चना शांति पूर्ण माहौल में चल रही है। प्रत्येक शिव मंदिर पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

Next Story
Share it