Top
Action India

सामाजिक सुरक्षा व बराबरी का अधिकार प्राप्त होना चाहिए: अनुसूचित जनजाति शिविर संपन्न

जोधपुर। एएनएन (Action News Network)

श्रमिक शिक्षा एवं विकास बोर्ड श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार तथा अखिल भारतीय ट्रेड यूनियन केन्द्र (एआईसीटीयू) के संयुक्त तत्वावधान में नेहरू पार्क स्थित मदन डागा साहित्य सदन के सभागार में चल रहा अनूसूचित जनजाति का शिविर गुरुवार को संपन्न हुआ। शिविर में अनूसूचित जनजाति के लोगों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में जानकारी देकर उनका लाभ उठाने का आह्वान किया।

इस शिविर का उद्घाटन संयुक्त श्रम आयुक्त जीपी कुकरेती ने किय था। गुरुवार को दूसरे दिन भी शिविर को कई वक्ताओं ने संबोधित किया। एआईसीटीयू के राष्ट्रीय महासचिव गोपीकिशन ने राष्ट्रीय श्रमिक शिक्षा एवं विकास बोर्ड द्वारा जोधपुर में शिविर लगाकर अनुसूचित जनजाति के लोगों को जागरूक करने की पहल करने पर आभार जताया। वक्ताओं ने कहा कि अनुसूचित जनजाति के श्रमिकों के लिये केन्द्र एवं राज्य सरकार ने अनेक योजनाएं बनाई है।

उनका लाभ प्राप्त करने के लिए सामाजिक सुरक्षा एवं बराबरी का अधिकार प्राप्त होना चाहिए। उन्होंने राष्ट्रीय श्रमिक शिक्षा एवं विकास बोर्ड की योजनाओं की जानकारी दी। साथ ही उन्होंने अनुसूचित जनजाति के श्रमिकों की अनेक समस्याओं को गिनाया और कहा कि इनमें असंगठित मजदूरों की तादाद ज्यादा है। इसीलिये उन्हे संगठित करना, उनमें अभिवृद्वि लाना उनका जीवन स्तर ऊचा उठाना प्रत्येक नागरिक का फर्ज है।

Next Story
Share it