Action India
झारखंड

चंद्रयान, पृथ्वी, ब्रम्होस तथा आईएनएस विक्रांत के मॉडल का खास आकर्षण

चंद्रयान, पृथ्वी, ब्रम्होस तथा आईएनएस विक्रांत के मॉडल का खास आकर्षण
X

श्रीकृष्ण विद्या मंदिर में विज्ञान एवं कला प्रदर्शनी आयोजित

रामगढ़। एएनएन (Action News Network)

रामगढ़ शहर के श्रीकृष्ण विद्या मंदिर के प्रांगण में शनिवार को विज्ञान एवं कला प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस प्रदर्शनी में विज्ञान, गणित, सामाजिक विज्ञान, कला एवं संगीत से संबंधित करीब 200 प्रोजेक्ट का बच्चों के द्वारा प्रदर्शन किया गया।

कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि रामगढ़ छावनी परिषद के उपाध्यक्ष अनमोल सिंह, संजीत सिंह, प्रदीप सिंह, रमेश महतो एवं विभिन्न वार्ड सदस्य साथ ही साथ विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष आनंद अग्रवाल, सह - सचिव अशोक अग्रवाल, महावीर अग्रवाल, महेश अग्रवाल, निर्मल जाजू, रामगढ़ गौशाला समिति के सचिव, नंदलाल अग्रवाल एवं अन्य अतिथियों में बैजू राय के द्वारा सामूहिक रूप से फीता काटकर किया गया।

बच्चों द्वारा लगाया गया प्रदर्शनी

विद्यार्थियों के द्वारा एक से बढ़कर एक प्रोजेक्ट का प्रदर्शन किया गया। जिनका निर्माण विद्यालय के कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक के विद्यार्थियों के द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण चंद्रयान - 2 (विक्रम लेंडर), पृथ्वी एवं ब्रम्होस मिसाइल तथा आईएनएस विक्रांत के मॉडल रहे। चंद्रयान - 2 के मॉडल का निर्माण विद्यालय के शिक्षक विक्रम सिंह के निर्देशन में कक्षा अष्टम, नवम, दशम के छात्रों श्याम कुमार, सचिन सिंह, प्रदीप कुमार, नितेश, मनीष, विशाल, नवनीत, विनीत, अविनाश, अवनीश एवं सूरज के सामूहिक प्रयास से हुआ।

आईएनएस विक्रांत मॉडल का निर्माण कक्षा 11 वीं विज्ञान के छात्र हंसराज एवं आशीष के द्वारा किया गया। जिसकी प्रशंसा प्रदर्शनी के दर्शकों ने खुले दिल से की। दर्शकों ने सभी प्रोजेक्ट की खूब सराहना की। बच्चों ने कला से संबंधित बहुत ही लुभावने एवं आकर्षक वस्तुओं का निर्माण किया। जिसमें अपशिष्ट पदार्थों जैसे अखबार, टूटी हुई चूड़ियों , जूट, नारियल के छिलके आदि से घरेलू उपयोग एवं सजावट के सामान बनाया गया।

सभी अतिथियों ने इस प्रदर्शनी का लुत्फ उठाया और बच्चों के हुनर की सराहना की। प्रदर्शनी के प्रारम्भ में ब्रह्मोस एवं पृथ्वी मिसाइल के मॉडल जो विद्यालय के शिक्षक विकास पाण्डे एवं वीरेंद्र कुमार के निर्देशन में कक्षा 10वी के नेहा प्रिया, सुरभि कुमारी, जिया कुमारी, दिव्यांका एवं राम के द्वारा निर्मित किया गया, उसकी भी अभिभावकों ने काफी सराहना की।

Next Story
Share it