Action India

दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में भारतीय टीम खेलेगी डे-नाइट टेस्ट मैच

दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में भारतीय टीम खेलेगी डे-नाइट टेस्ट मैच
X
  • सरदार वल्लभभाई पटेल क्रिकेट स्टेडियम में एक साथ 1.10 लाख बैठ सकेंगे दर्शक

अहमदाबाद । एक्शन इंडिया न्यूज़

दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम अहमदाबाद के मोटेरा में बनकर तैयार हो गया है। यहां 1.10 लाख दर्शक एक साथ मैच का आनंद ले सकेंगे। इस नए सरदार वल्लभभाई पटेल क्रिकेट स्टेडियम में पहली बार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का आयोजन फरवरी में होने जा रहा है। साल 2021 में इंग्लैंड की टीम भारत का दौरा करेगी, जिसमें दोनों टीमों के बीच 04 मैचों की टेस्ट, 05 मैचों की टी-20 और 03 मैचों की वनडे श्रृंखला खेली जाएगी। 04 मैचों की टेस्ट श्रृंखला का तीसरा डे-नाइट टेस्ट मैच गुलाबी गेंद से खेला जाएगा। यह डे-नाइट टेस्ट 24 फरवरी से अहमदाबाद में सरदार वल्लभभाई पटेल स्टेडियम में खेला जाएगा। इसी के साथ चौथा टेस्ट मैच और सभी पांचों टी-20 मैच भी खेले जाएंगे।

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला 05 फरवरी 2021 से शुरू होने वाली है। दौरे का पूरा कार्यक्रम घोषित कर दिया गया है। 24 फरवरी से शुरू होने वाला तीसरा डे-नाइट टेस्ट मैच मोटेरा के नए सरदार वल्लभभाई पटेल क्रिकेट स्टेडियम में गुलाबी गेंद से खेला जाएगा, जबकि चौथा टेस्ट भी अहमदाबाद में ही खेला जाएगा। इसके अलावा इस सभी पांच टी-20 मैच अहमदाबाद में ही खेले जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि दुनिया के इस सबसे बड़े सरदार वल्लभभाई पटेल क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन 24 फरवरी को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। यहीं पर अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वागत में 'नमस्ते ट्रम्प' कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस नवनिर्मित स्टेडियम में बैठने की क्षमता एक लाख 10 हजार है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया का मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड लगभग एक लाख लोगों के बैठने की क्षमता वाला दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम था। भारत में अभी तक कोलकाता का ईडन गार्डन स्टेडियम सबसे बड़ा था, जहां लगभग 66 हजार दर्शक बैठ सकते हैं।

दरअसल, मोटेरा के पुराने स्टेडियम ने आखिरी बार नवम्बर 2014 में एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच की मेजबानी की थी। इस मैच में भारत ने 275 रनों का पीछा करते श्रीलंका को 6 विकेट से हराया था। पहले इस स्टेडियम में 50 हजार लोगों की बैठने की क्षमता थी, लेकिन यहां दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम बनाने के लिए पुराने स्टेडियम को ध्वस्त कर दिया था। यहां दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम बनाने का डिजाइन मशूहर आर्किटेक्ट पॉपुलस ने बनाया है।

इसी फर्म ने ऑस्ट्रेलिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बनाया था। इस मोटेरा के नए स्टेडियम की क्षमता 1.10 लाख है। स्टेडियम के अंदर एक इनडोर क्रिकेट अकादमी की स्थापना की गई, जिसे 700 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत पर बनाया गया है। परिसर में सभी सुविधाओं से सुसज्जित चार ड्रेसिंग रूम, 55 कमरों वाला एक क्लब हाउस, 76 कॉरपोरेट बॉक्स के साथ-साथ ओलंपिक आकार का स्विमिंग पूल, मैदान में 3 प्रवेश द्वार होंगे। इसके अलावा, जमीन के निचले भाग में एक उप-सतही जल निकासी प्रणाली का निर्माण किया गया है, जिसकी मदद से बारिश के दौरान 30 मिनट में पानी निकासी की जा सकेगी है।

इनडोर अकादमी का बीसीसीआई सचिव जय शाह ने किया उद्घाटन

इधर, गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन (जीसीए) ने 40 लाख रुपये की लागत से एक इनडोर अकादमी की स्थापना की है। इस अकादमी का उद्घाटन बीसीसीआई सचिव जय शाह ने किया। उन्होंने नेट्स पर पहली गेंद फेंकी और पार्थिव पटेल ने पहली गेंद खेली। उसके बाद पार्थिव की गेंदबाजी पर जय शाह ने बल्लेबाजी की। इस मौके पर जीसीए सचिव अशोक ब्रह्मभट्ट और संयुक्त सचिव अनिल पटेल भी मौजूद थे।

इस अकादमी में खिलाड़ी भविष्य में बेहतर प्रदर्शन के लिए तैयार हो सकेंगे। इस अकादमी में चार अलग-अलग प्रकार के विकेट हैं, एक विकेट तेज गेंदबाज की मदद करता है। स्पिनर के लिए अलग विकेट है। हर तरह अन्य पिच भी खिलाड़ियों के कौशल में सुधार कर सकेंगे। इस इनडाेर अकादमी में खिलाड़ियों के अभ्यास में बारिश खलल नहीं डाल पाएगी।

Next Story
Share it