Action India

ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर मिली जीत से भारतीय टीम को एक अलग तरह का आत्मविश्वास मिला : ईशांत शर्मा

ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर मिली जीत से भारतीय टीम को एक अलग तरह का आत्मविश्वास मिला : ईशांत शर्मा
X

साउथेम्प्टन। एक्शन इंडिया न्यूज़

भारत के अनुभवी तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने कहा है कि ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर मिली जीत से भारतीय टीम को एक अलग तरह का आत्मविश्वास मिला है।

ईशांत की टिप्पणी न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल से पहले आई है, जो 18 जून से साउथेम्प्टन के एजेस बाउल में शुरू होगी। इस साल की शुरुआत में, भारत ने ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में मेजबान टीम को 2-1 से हराने में कामयाबी हासिल की थी।

ईशांत ने बीसीसीआई टीवी से बातचीत में कहा,"यह एक व्यावहारिक और साथ ही भावनात्मक यात्रा रही है। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल एकदिवसीय विश्वकप जितना ही बड़ा है। विराट कोहली पहले ही कह चुके हैं कि यह सिर्फ एक महीने की नहीं बल्कि दो साल की अवधि में किये गए कड़ी मेहनत का नतीजा है। हमें कोरोना के कारण अधिक मेहनत करनी पड़ी, फिर नियम में बदलाव हुआ और हम दबाव में थे और फिर हमने ऑस्ट्रेलिया में एक कठिन श्रृंखला जीती। इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट श्रृंखला में हमें 3-1 से जीत मिली।"

उन्होंने कहा,"मुझे लगता है कि यह विश्वास बहुत बड़ा था कि हम कहीं से भी और किसी भी परिस्थिति में वापसी कर सकते हैं। इसने भारतीय क्रिकेट को अगले चरण में प्रवेश करने में मदद की। भले ही मैं इसका हिस्सा नहीं था,लेकिन मुझे लगा कि बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी ने हमारी टीम को एक अलग तरह का आत्मविश्वास दिया।"

बता दें कि भारतीय क्रिकेट टीम 3 जून को साउथेम्प्टन पहुंची थी। इसके बाद, भारतीय दल के प्रत्येक सदस्य को तीन दिवसीय अनिवार्य हार्ड क्वारंटाइन से गुजरना पड़ा। हैम्पशायर बाउल में, प्रबंधित अलगाव की अवधि शुरू करने से पहले खिलाड़ियों का फिर से परीक्षण किया गया। इसके अलावा आइसोलेशन की अवधि के दौरान भी नियमित परीक्षण किए जाएंगे।

इंग्लैंड के लिए रवाना होने से पहले, भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा था कि आगे जाकर, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल को बेस्ट-ऑफ-थ्री प्रतियोगिता बनाने के लिए देखना चाहिए और इसे तीन मैचों के श्रृंखला की तरह खेला जा सकता है।

इस बीच, न्यूजीलैंड की टीम इंग्लैंड के खिलाफ अपनी द्विपक्षीय श्रृंखला के लिए पहले से ही यूके में है और टीम 15 जून को ईसीबी जैव-सुरक्षित वातावरण से डब्ल्यूटीसी फाइनल बबल में चली जाएगी और आगमन से पहले और बाद में टीम के सदस्यों का नियमित परीक्षण किया जाएगा।


Next Story
Share it