Action India

आईएसएल-7: मुम्बई ने 10 खिलाड़ियों के साथ खेल रही गोवा को 1-0 से हराया

आईएसएल-7: मुम्बई ने 10 खिलाड़ियों के साथ खेल रही गोवा को 1-0 से हराया
X

गोवा । एक्शन इंडिया न्यूज़

मुम्बई सिटी एफसी ने इंजुरी टाइम के अंतिम मिनट में मिले पेनाल्टी के दम पर बुधवार रात यहां जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन के अपने दूसरे मैच में एफसी गोवा को 1-0 से हरा दिया।

यह इस सीजन की मुम्बई की पहली जीत और गोवा की पहली हार है। 40वें मिनट से ही 10 खिलाड़ियों के साथ खेल रही गोवा की टीम ने अंतिम पलों तक मुम्बई के हर हमले का करारा जवाब दिया और उसे गोल करने से महरूम रखा लेकिन इंजुरी टाइम में जो हुआ, उसने गोवा के फैन्स का दिल तोड़ दिया।

अंतिम मिनट में गोवा के डिफेंस की अनचाही गलती ने मुम्बई को पेनाल्टी दिया और इस पर गोल करते हुए एडम ले फोंड्रे ने उसे जीत दिला दी। मुम्बई को अपने पहले मैच में हाईलैंडर्स के हाथों 0-1 से हार मिली थी और इसीलिए उसे जीत की अदद दरकार थी। गोवा ने अपने शानदार खेल के दम पर उसे ड्रा की ओर धकेल दिया था लेकिन किस्मत को यह मंजूर नहीं था। गोवा की यह पहली हार है। गोवा ने अपने पहले मैच में बेंगलुरू एफसी को 2-2 की बराबरी पर रोका था।

पहले हाफ में गोवा का पलड़ा भारी रहा लेकिन 40वें मिनट में रिडीम थ्लांग को लाल कार्ड दिखाए जाने के बाद लगा कि मुम्बई की टीम अब हावी हो जाएगी और इस सीजन की अपनी पहली जीत दर्ज कर लेगी लेकिन गौर्स ने अंतिम पलों तक एसा नहीं होने दिया।

थ्लांग को हेर्नान सांटाना के खिलाफ गलत टैकलिंग के लिए लाल कार्ड मिला था। पहले हाफ में गोवा का पलड़ा भारी रहा था लेकिन दूसरे हाफ में मुम्बई की टीम चढ़कर खेली। इसके बावजूद गोवा ने उसे रोके रखा। पहले हाफ में क्या हुआ, उससे बेपरवाह गोवा के इगोर एल्बोनिगा ने 47वें मिनट में राइट फ्लैंक से मिली गेंद को लेकर मुम्बई के बाक्स में प्रवेश किया। सिमिलेन डोंगेल उनकी दाईं ओर थे लेकिन दोनों के बीच फासला कम था और इसी कारण इगोर ने शाट लिया लेकिन वह वाइड चला गया।

गोवा ने 55वें मिनट में पहला बदलाव करते हुए डोंगेल को बाहर किया और एलेक्जेंडर जेसुराज को अंदर लिया। 56वें मिनट में गोवा ने एक शानदार हमला किया लेकिन मुम्बई के गोलकीपर अमरिंदर सिंह ने उसे नाकाम कर दिया। इस हमले के तीन मिनट बाद मुम्बई के लिए हुगो बाउमोस ने इस मैच का पहला शाट टारगेट पर लिया लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। 61वें मिनट में हुगो बोउमोस ने मुम्बई के लिए एक और हमला किया लेकिन सफलता यहां भी दूर ही रही। 62वें मिनट में गोवा ने एक और बदलाव करते हुए इगोर एंगुलो को बाहर कर जार्ज मेंदोजा को अंदर लिया।

65वें मिनट में मुम्बई के एमे रानावाडे को पीला कार्ड मिला। मेंदोजा ने 67वें मिनट में अच्छा फ्रीकिक लिया लेकिन गोवा को सफलता नहीं मिली। मुम्बई ने 71वें मिंनट में दो बदलाव किए। फारुख चौधरी को बाहर कर बार्थोलोमेव ओग्बेचे को अंदर लिया और रानावाडे को बाहर कर मोहम्मद राकिप को अंदर लिया।

बदलावों का दौर चलता रहा और इसी के बीच 75वें मिनट में मुम्बई को अपनी पहली जीत हासिल करने का सुनहरा मौका मिला लेकिन वह उसे भुना नहीं सकी। 79वें मिनट में राकिप के लो क्रास पर सांटाना के पास गोल कर मुम्बई को आगे करने का मौका था लेकिन वह अपने शाट पर नियंत्रण नहीं रख सके। 84वें मिनट में मंडार रिप्लेस किए गए। अंतिम कुछ मिनटों में भी मुम्बई ने मौका बनाए औऱ इसी का फायदा उसे पेनाल्टी के रूप में मिला। इस पेनाल्टी पर आखिरकार फोंड्रे ने बिपिन सिंह की गलती पर डेकलाक तोड़कर मुम्बई को तीन अंक दिला दिए।

Next Story
Share it