Action India

यादों के झरोखे से : 27 साल पहले आज ही के दिन बतौर सलामी बल्लेबाज मैदान पर उतरे थे सचिन

यादों के झरोखे से : 27 साल पहले आज ही के दिन बतौर सलामी बल्लेबाज मैदान पर उतरे थे सचिन
X

नई दिल्ली। एक्शन इंडिया न्यूज़

भारतीय क्रिकेट इतिहास में आज का दिन काफी यादगार है, 27 साल पहले 27 मार्च 1994 को भारतीय क्रिकेट को महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के रूप में एक ऐसा सलामी बल्लेबाज मिला,जिसने पारी की शुरुआत करते हुए अनगिनत रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए।

27 मार्च 1994 तक सचिन भारतीय टीम के लिए एकदिनी क्रिकेट में मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते थे।

उस समय टीम के लिए ओपनिंग करने की जिम्मेदारी अजय जडेजा, संजय मांजरेकर और नवजोत सिंह सिद्धू जैसे बल्लेबाजों की थी। भारतीय टीम 1994 में न्यूजीलैंड के दौरे पर थी।

19 से 23 मार्च तक खेला गया एक मात्र टेस्ट ड्रॉ रहा।

पहला मैच 25 मार्च को नेपियर में खेला गया।

मैच को कीवी टीम ने 28 रनों से जीत लिया।

दूसरा मैच 27 मार्च को ऑकलैंड में खेला गया। लेकिन समस्या तब हो गई जब मैच से ठीक पहले सलामी बल्लेबाज नवजोत सिंह सिद्धू अनफिट घोषित हो गए।

टीम के सामने सबसे बडी समस्या टीम ओपन करने की हो गई।

ऐसे में कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने एक अप्रत्याशित फैसला करते हुए पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी अजय जडेजा के साथ सचिन तेंदुलकर को दी।

न्यूजीलैंड ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 142 रनों पर सिमट गई।

क्रिस हैरिस के अलावा कोई भी बल्लेबाज टिक नहीं पाया। राजेश चौहान ने 3 विकेट लिए। कपिल देव, श्रीनाथ और सलिल अंकोला ने दो-दो विकेट लिए।

इसके बाद भारतीय पारी की शुरुआत करने आए अजय जडेजा और सचिन तेंदुलकर।

अजय जडेजा तो जल्दी आउट हो गए। लेकिन सचिन को इसी मौके की तलाश थी। उन्होंने 49 बॉल में 82 रनों की पारी खेलकर भारतीय टीम को शानदार जीत दिलाई।

सचिन ने इस पारी में 15 चौके और 2 छक्के लगाए।

तीसरे मैच में सचिन फिर ओपनिंग के लिए उतरे और 63 रनों की शानदार पारी खेली।

भारतीय टीम ने मैच 12 रन से जीता।

हालांकि चौथे मैच में तेंदुलकर ने 26 बॉल में 40 रनों की पारी खेली। लेकिन भारतीय टीम मैच हार गई।

श्रृंखला 2-2 से बराबर रही।

Next Story
Share it