Top
Action India

असिस्टेंट प्रोफेसर बनने पर आरक्षी विनोद यादव को एसएसपी ने दी बधाई

असिस्टेंट प्रोफेसर बनने पर आरक्षी विनोद यादव को एसएसपी ने दी बधाई
X

वाराणसी। एएनएन (Action News Network)

रोहनिया थाना में तैनात आरक्षी विनोद यादव के सहायक प्रोफेसर बनने पर परिजनों के साथ साथी पुलिस कर्मी भी गदगद है। रविवार को एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने अपने कैम्प कार्यालय पर विनोद यादव से मुलाकात कर जीवन में आगे बढ़ने की शुभकामना दी और सम्मानित किया। एसएसपी से मिलकर विनोद यादव बेहद उत्साहित रहे।

आरक्षी विनोद यादव मूल रूप से प्रयागराज के कसौटा शंकरगढ़ के निवासी है। किसान पिता राम कैलाश यादव के तीन बेटे और दो बेटियों में विनोद सबसे बड़े हैं। वर्ष 2011 में इलाहाबाद विश्वविद्यालय से हिन्दी में एमए करने के बाद घर की माली हालत देख पुलिस विभाग में सिपाही पद पर भर्ती हो गये। घर की स्थिति सुधरने के बाद विनोद लगातार उच्च शिक्षा के साथ शिक्षक बनने के लिए जी जान से जुटे रहे। इसी दौरान उनकी पोस्टिंग रोहनिया थाने में हो गई।

घर और विभाग के जिम्मेदारियों को पूरी सजगता से निभाते हुए विनोद अपने मंजिल को पाने के लिए समय मिलने पर अध्ययन के साथ तैयारी करते रहे। वर्ष 2014 में विनोद ने नेट क्वालीफाई किया। लगभग नौ साल के कठिन परिश्रम के बाद विनोद उच्च शिक्षा विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर चयनीत हो गये।

बीते मंगलवार को परिणाम जारी होने पर चयन की सूचना मिली तो विनोद के साथ उनके परिजन और साथी भी गदगद हो गये। विनोद को यह सफलता पहले प्रयास में नहीं मिली। माता-पिता के प्रोत्साहन से अपने मंजिल को पाने के लिए विनोद ने लगातार प्रयास किया और साबित किया सपने साकार करने का जज्बा हो तो चुनौतियाँ भी प्रेरणा बन जाती है। पांच जनवरी 2019 को विनोद ने असिस्टेंट प्रोफेसर पद की परीक्षा दी थी और 27 नवम्बर को उनका इंटरव्यू हुआ था। इसके बाद रिजल्ट निकला तो उनका चयन असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर हो गया।

Next Story
Share it