Select Page

सुप्रीम कोर्ट की कार्यवाही के कॉपीराइट यू-ट्यूब को न देने की मांग

सुप्रीम कोर्ट की कार्यवाही के   कॉपीराइट यू-ट्यूब को न देने की मांग

नई दिल्ली, एक्शन इंडिया न्यूज।

कोर्ट की कार्यवाही का सीधा प्रसारण के कॉपीराइट्स यूट्यूब को नहीं दिए जाने की मांग पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने प्रशासनिक पक्ष को नोटिस जारी किया है। चीफ जस्टिस यूयू ललित की अध्यक्षता वाली बेंच ने 28 नवंबर तक जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है।

गोविंदाचार्य ने दायर याचिका में कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में कोर्ट की कार्यवाही का सीधा प्रसारण करने के आदेश में कहा था कि प्रसारण के सभी कॉपीराइट सुप्रीम कोर्ट के पास ही रहेंगे। ऐसे में यू-ट्यूब के साथ एक विशेष करार किया जाना चाहिए ताकि न्यायिक कार्यवाही के सीधे प्रसारण का कॉपीराइट सुरक्षित रहे।

सुप्रीम कोर्ट ने 26 सितंबर, 2018 को देश की सबसे बड़ी अदालत और हाई कोर्ट की कार्रवाई की लाइव स्ट्रीमिंग को हरी झंडी दे दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि भारत में कोर्ट सबके लिए खुला रखने की व्यवस्था है। अब लोगों को कोर्ट आने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी। सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से लाइव स्ट्रीमिंग शुरू करने के लिए ज़रूरी नियम बनाने को कहा था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि इससे न्यायपालिका की जवाबदेही बढ़ेगी।सुप्रीम कोर्ट की सभी संविधान बेंच की कार्यवाही का सीधा प्रसारण 27 सितंबर से किया जा रहा है।

Advertisement

Advertisement