Top
Action India

अब गोपनीय संदेश रहेंगे सुरक्षित, सेना ने विकसित किया खुद का ऐप

अब गोपनीय संदेश रहेंगे सुरक्षित, सेना ने विकसित किया खुद का ऐप
X

नई दिल्ली । एक्शन इंडिया न्यूज़

भारतीय सेना ने गोपनीय संदेशों को सुरक्षित रखने के लिए एक एप्लिकेशन 'एसएआई' विकसित किया है। इस एप्लिकेशन के जरिए एंड्रॉइड मोबाइल फोन से सुरक्षित वाइस और वीडियो कॉलिंग के साथ-साथ सुरक्षित सन्देश भी भेजे जा सकते हैं। अब सुरक्षित संदेश भेजने के लिए पूरी सेना इसी 'एसएआई' एप्लिकेशन का इस्तेमाल करेगी।

यह मॉडल व्यावसायिक रूप से उपलब्ध व्हाट्सएप, टेलीग्राम, संवाद और जीआईएमएस की ही तरह है और एन्क्रिप्शन संदेश प्रोटोकॉल का उपयोग करता है। एसएआई एप्लिकेशन स्थानीय इन-हाउस सर्वर और कोडिंग के साथ सुरक्षा सुविधाओं पर कार्य करता है, जिसे आवश्यकताओं के अनुसार सुधारा जा सकता है। इस एप्लिकेशन का सीईआरटी से संबद्ध लेखा परीक्षक और सेना के साइबर समूह ने परीक्षण किया है।

एप्लिकेशन से सम्बंधित बौद्धिक संपदा अधिकार (आईपीआर) दाखिल करने की प्रक्रिया, एनआईसी पर आधारभूत ढांचे और आईओएस प्लेटफॉर्म पर लाने की प्रक्रिया अभी जारी है। अब सुरक्षित संदेश भेजने के लिए पूरी सेना इसी 'एसएआई' एप्लिकेशन का इस्तेमाल करेगी। इस ऐप की समीक्षा करने के बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कर्नल साई शंकर के कौशल तथा इंटरनेट के लिए सुरक्षित एप्लिकेशन विकसित करने के लिए सराहना की है।

Next Story
Share it