Action India
टेक्नोलॉजी

क्राफ्टोन ने एपल और गूगल पर ठोका मुकदमा, लगाया बड़ा आरोप

क्राफ्टोन ने एपल और गूगल पर ठोका मुकदमा, लगाया बड़ा आरोप
X

एक्शन इंडिया न्यूज़

पबजी गेम को डेवलप करने वाली कंपनी Krafton ने एपल और गूगल के खिलाफ मुकदमा किया है। गूगल एपल के अलावा क्राफ्टोन ने Free Fire और Free Fire Max को डेवलप करने वाली कंपनी Garena के खिलाफ भी मुकदमा दायर किया है।

Free Fire और Free Fire Max ने पबजी गेम को कॉपी किया और अपने एप को गूगल प्ले-स्टोर और एप स्टोर पर पब्लिश होने दिया है। Krafton ने यूट्यूब पर भी मुकदमा किया है। कुल मिलाकर यह पूरा मामला कॉपीराइट से जुड़ा है। क्राफ्टोन ने यह भी कहा है कि यूट्यूब ने फ्री फायर गेमप्ले के वीडियो को अपने प्लेटफॉर्म पर लाइव किया है।

क्राफ्टोन ने अपने एक बयान में कहा है कि फ्री फायर और फ्री फायर मैक्स ने पबजी बैटलग्राउंड के कई फीचर को कॉपी किया है। जिन फीचर को इन दोनों गेम ने कॉपी किया है उनमें एयर ड्रॉप फीचर, गेम स्ट्रक्चर और प्ले, हथियार, आर्मर, यूनिक ऑब्जेक्ट, लोकेशन और कलर्स के अलावा टेक्स्चर तक शामिल हैं।

Krafton ने कहा है कि Garena ने उसके फीचर्स को कॉपी करके अरबों रुपये कमाए हैं। कंपनी का कहना है कि इसमें गूगल और एपल ने भी जबरदस्त कमाई की है। क्राफ्टोन ने यह भी कहा है कि गरेना ने 2017 में सिंगापुर में एक गेम लॉन्च किया था जो कि पबजी गेम का कॉपी किया गया था। यह पहला मौका नहीं है जब पबजी के डेवलपर्स ने किसी कंपनी पर मुकदमा किया है। 2018 में क्राफ्टोन ने Fortnite पर भी मुकदमा दायर किया था।

बता दें कि पबजी मोबाइल को भारत में बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया (BGMI) के नाम से लॉन्च किया गया है। BGMI ने हाल ही में महज एक सप्ताह में 60 हजार से अधिक प्लेयर्स के अकाउंट को बैन कर दिया है। गेम को तैयार करने वाली कंपनी Krafton ने इसकी जानकारी दी है। कंपनी ने कहा है कि गेम में चीटिंग को लेकर यह फैसला लिया गया है।

क्राफ्टोन ने इस बार उन अकाउंट्स के नाम भी सार्वजनिक कर दिए हैं जो गेम में चीटिंग कर रहे थे। कंपनी ने 13-19 दिसंबर के बीच 1 लाख से अधिक अकाउंट बैन किए हैं। 6 से 12 दिसंबर के बीच 1,42,000 प्लेयर्स गेम में चीटिंग करते पकड़े गए हैं।

Krafton ने अपने ब्लॉग में कहा है कि अवैध गतिविधियों के कारण 58,611 अकाउंट पर बैन लगाया गया है। इन अकाउंट्स पर कार्रवाई 20-26 दिसंबर के बीच हुई है। कंपनी ने कहा है कि गेम में चीटिंग और अवैध गतिविधियों के लिए कोई जगह नहीं है।

Next Story
Share it