Top
Action India

महम के विधायक ने पीजीआई में मारा छापा, पकड़ा भ्रष्टाचार

अमृत योजना में फर्जीवाड़े का खुलासा, महंगी दर पर बिक रही हैं दवा

रोहतक। एएनएन (Action News Network)

महम के विधायक बलराज कुण्डू ने पीजीआई के कुलपति कार्यालय पहुंचकर पहले वीसी को सम्मानित किया, फिर उन्हें और निदेशक के साथ पीजीआई के वार्ड 12 स्थित अमृत योजना स्टोर पर छापेमारी की। विधायक ने कुलपति और डाक्टरों को खूब खरी-खरी सुनाई। इस बीच कुलपति चुप्पी साधे रहे।

विधायक का आरोप है कि अमृत स्टोर पर बाजार से महंगी दरों पर आर्थो इम्पलांट व दवा बेची जाती है। कुण्डू ने कुलपति को दवा खरीद के कागजात भी सौंपे। दरअसल, विधायक कुण्डू ने एक दिन पहले कार्ड बनवाकर अमृत स्टोर से दवाईयां खरीदी थीं। जबकि वही दवाईयां बाहर सस्ते रेट में मिली। विधायक कुण्डू इसी फर्जीवाड़े का खुलासा भी करना चाहते थे। उन्होंने कहा कि इस तरह का भ्रष्टाचार नहीं होने देंगे। कुलपति ने उसी वक्त मामले की जांच के आदेश दिए और कहा कि कमेटी बनाकर जांच कराई जाएगी। जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ कड़ी कारवाई की जाएगी।

विधायक की इस छापेमारी से पीजीआई में हड़कंप मचा हुआ है। गुरुवार की सुबह 10 बजे वह मीडिया कर्मियों के साथ कुलपति कार्यालय पहुंचे और कार्यालय में मौजूद वीसी डॉ. ओपी कालरा को फूल माला पहनाई। इस मौके पर विधायक ने कहा, कुलपति ने अमृत योजना की शुरूआत की है, वह बेहतर है। इसलिए उनका सम्मान किया जा रहा है, लेकिन इसके बाद विधायक कुलपति और निदेशक डॉ. रोहताश यादव को साथ लेकर पीजीआई के वार्ड 12 स्थित अमृत स्टोर पहुंचे और फर्जीवाड़े का खुलासा किया तो सभी दंग रह गए।

दरअसल, अमृत स्टोर पर सस्ती दवाईयां मिलनी चाहिए थीं, लेकिन मरीजों को लूटा जा रहा है। अमृत स्टोर पर डाॅक्टरों व विधायक के बीच तल्खी में बातचीत भी हुई, लेकिन विधायक ने डाॅक्टरों पर मिलीभगत कर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जबरदस्ती मरीजों से अमृत स्टोर से दवाईयां खरीदवाई जा रही हैं और इस बारे में निदेशक ने आदेश तक जारी कर रखे हैं।

विधायक ने वार्ड 12 जाकर भर्ती मरीजों से भी दवाईयों के बारे में पता किया। फिर पत्रकारों से मुखतिब हुए, पीजीआई में बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार चल रहा है। इसकी जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वे इस मामले को मय सबूत स्वास्थ्य मंत्री के सामने रखेंगे। जबकि कुलपति डॉ. ओपी कालरा ने कहा है कि उनकी संज्ञान में यह मामला आया है। कमेटी द्वारा जांच कराई जाएगी, जो दोषी होगा उसके खिलाफ कडी कारवाई की जाएगी।

Next Story
Share it