Top
Action India

युवा इंजीनियर प्रीतीश सिंह ने किया थ्री-डी प्रिटेंड फेस मास्क और शील्ड को ईजाद

मंडी । एएनएन (Action News Network)

कोविड-19 को लेकर जहां एक ओर संपूर्ण विश्व त्रस्त है वहीं दूसरी ओर इस महामारी से लडऩे की गंभीरता को लेकर अब विभिन्न क्षेत्रों के लोग आगे आने शुरू हो गए हैं। सरकार द्वारा सभी लोगों को मुंह मास्क लगाकर ही बाहर आने का कानून बनाने से बाजार में मास्क की उपलब्धता में भी कमी आई है। इस समस्या को लेकर कोरोना वारियर्स के लिए सुंदरनगर के एक युवा इंजीनियर नाम प्रीतीश सिंह सामने आए हैं।

उन्होंने मास्क की कमी को पूरा करने के लिए बार-बार उपयोग में लाए जाने वाले थ्री-डी प्रिटेंड फेस मास्क और शील्ड को ईजाद किया है। इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बीटेक प्रीतीश सिंह ने इस नई तकनीक के उपकरणों को एसएमओ सुंदरनगर चमन ठाकुर को भी सौंपा दिया है। जानकारी देते हुए प्रीतीश ने कहा कि वर्तमान में वह डाटा साइंस का कोर्स कर रहे है। उन्होंने कहा कि पिछले महीने जब कोरोना वायरस की वजह से भारत में मास्क की कमी होने लगी तो इस कमी को पूरा करने के लिए इंटरनेट पर विकसित देशों में डॉक्टर्स और हॉस्पिटल में काम करने वाले कर्मचारियों के पास फेस शील्ड की सुविधा भी उपलब्ध हुई देखा। इस पर उन्होंने थ्री-डी प्रिंटेड फेस शील्ड कम लागत में घर पर ही बनाने के बारे में कार्य आरंभ किया।

उन्होंने कहा कि इस तकनीक को लेकर स्थानीय अस्पताल में डिजाइन डॉक्टरों के सामने प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि डाक्टरों ने भी उनके द्वारा बनाए गए थ्री-डी प्रिंटेड फेस मास्क के डिजाइंस को सराहा। इसके उपरांत उन्होंने एसडीएम सुंदरनगर को भी अपने फेस शील्ड और मास्क प्रदर्शित किए।

प्रीतीश ने कहा कि उनके द्वारा डिजाइन किए गए मास्क को सैनिटाइज करने के बाद बार-बार जीरो रिस्क पर उपयोग में लाया जा सकता है। इस मास्क में फिल्टर्स को बदलने की सुविधा है जिससे साधारण थ्री प्लाई मास्क को फिल्टर की तरह इस मास्क में 6 बार तक इस्तेमाल कर सकते है।
उन्होंने कहा कि थ्री-डी प्रिंटेड फेस मास्क और प्रिंटेड फेस शेल्स डिजाइन किया है और घर पर ही इनको अपनी प्रिंटर से बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा निर्मित 10 फेस शील्ड और मास्क अस्पतालों में मु त में बांट दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि अन्य फेस शील्ड बाजार में लगभग 700 रुपए तक उपलब्ध होने के चलते उनके द्वारा अन्य लोगों के लिए इसका मूल्य केवल 150 रुपए निर्धारित किया गया है।

Next Story
Share it