Top
Action India

क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाने में बाधा देने पर ग्रामीणों और तृणमूल में हिंसक संघर्ष, एक की मौत

बीरभूम। एएनएन (Action News Network)

कोरोना महामारी के खिलाफ चल रही जंग के बीच लोगों में आपसी टकराव भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा घटना बीरभूम जिले के पारुई इलाके की है। यहां एक गांव के अंदर स्कूल में क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाने को लेकर स्थानीय तृणमूल नेता के समर्थकों और गांव वालों के बीच जमकर हिंसक संघर्ष हुआ है।

गांव में जमकर बमबारी व गोलीबारी की गई है। इसमें एक ग्रामीण की मौत हो चुकी है। घटना शनिवार शाम शुरू हुई जो देर रात तक जारी थी। रविवार सुबह से ही पूरे क्षेत्र में पुलिस की तैनाती की गई है। हालात तनावपूर्ण हैं इसीलिए संभावित संघर्ष को टालने के लिए क्षेत्र में बैरिकेडिंग कर दी गई है। सारी दुकानें बंद हैं। इलाके से कई जिंदा बम बरामद हुए हैं। दीवारों पर बम लगने और फटने के निशान हैं। जिला पुलिस का कहना है कि हालात सामान्य नहीं हुआ है।

पुलिस ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज की है। हालांकि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।बताया गया है कि गांव के अंदर पारुई हाई स्कूल हॉस्टल में क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाया जा रहा थास इसे लेकर स्थानीय लोगों ने विरोध किया जिसके बाद स्थानीय तृणमूल नेता और उनके समर्थकों ने गांव वालों पर हमले कर दिए। इसमें कई लोग घायल बताए जा रहे हैं।

Next Story
Share it