Action India
पर्यटन

शेखावाटी घूमने पहुंचा यूरोप का दल:18 महीने बाद आने लगे विदेशी सैलानी, मंडावा में सैलानियों ने पर्यटन स्थलों की सैर की

शेखावाटी घूमने पहुंचा यूरोप का दल:18 महीने बाद आने लगे विदेशी सैलानी, मंडावा में सैलानियों ने पर्यटन स्थलों की सैर की
X

एक्शन इंडिया न्यूज़


शेखावाटी के पर्यटन स्थल अब धीरे धीरे गुलजार होने लगे है। वहीं शेखावाटी के मशहूर मंडावा पर्यटन शहर अब पर्यटकों से फिर से गुलजार होने लगा है। करीब 18 माह बाद इस वीकेंड पर बडी संख्या में विदेशी सैलानी भ्रमण के लिए आए जिससे पर्यटन व्यवसायियों में एक उम्मीद जगी है। कोरोना की वजह से पिछले 18 महीने से विदेशी सैलानी नहीं आने से पर्यटन व्यवसाय ठप पड़ा था। कोरोना काल में सबसे ज्यादा नुकसान होटल संचालकों के साथ गाइड, होटल कर्मचारी, शोरूम संचालक को झेलना पड़ा। अब कोरोना का असर भी कम है और शेखावाटी क्षेत्र के पर्यटन स्थलों में वीकेंड और दीपावली के त्यौहार पर विदेशी पर्यटकों की संख्या में इजाफा होने लगा है।

  • पर्यटन व्यवसायियों में जगी आस

शेखावाटी क्षेत्र के प्रसिद्ध मंडावा शहर के मेहराब,शानदार हवेलियों,किले और स्मारक को देखने दूर दूर से देसी और विदेशी सैलानी आते हैं। इस बार का पर्यटन सीजन अच्छी खबर लेकर आया है। लगातार पर्यटकों की संख्या में हो रहे इजाफे से आने वाले दिनों में पर्यटन व्यवसायियों को उम्मीद है कि इस बार का पर्यटन व्यवसाय खुशी लेकर आएगा। इस वीकेंड पर मंडावा कस्बे में यूरोप के सैलानियों का एक ग्रुप भ्रमण के लिए आया। सैलानियों को गाइड नरेश राहड ने स्नेहराम लडिया हवेली सहित अन्य पर्यटन स्थलों का भ्रमण करवाया। सैलानियों ने इन हवेलियों में बने भित्ति चित्रों को निहारा। विदेशी सैलानियों का स्थानीय लोगों और पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों ने पुष्प भेंट कर सैलानियों का स्वागत किया। उम्मीद जताई जा रही है कि दीपावली के बाद विदेशी सैलानियों की संख्या और बढ़ेगी। पर्यटन व्यवसायियों को अब आस जगी है कि आने वाले नवंबर वह दिसंबर महीने में भ्रमण के लिए आने वाले विदेशी सैलानियों की संख्या और बढ़ने से शेखावाटी का पर्यटन व्यवसाय फिर से एक बार मजबूती के साथ खड़ा होगा।

  • इंटरनेशनल फ्लाइट्स की संख्या बढ़ने पर विदेशी पर्यटकों की बढ़ेगी संख्या

कोरोना की वजह से कई देशों ने विदेशी फ्लाइट्स पर रोक लगा रखी है।कोरोना का इफेक्ट कम होने और लोगों के वैक्सीनेटेड हो जाने से कई देशों ने विदेशी फ्लाइटों पर अब ढील देना शुरु कर दिया है। भारत में भी कुछ इंटरनेशनल फ्लाईट्स की संख्या अब बढी है। आने वाले समय में पर्यटन व्यवसाय को उम्मीद है कि इंटरनेशनल फ्लाईट्स की संख्या बढ़े तो विदेशी सैलानियों के आने से सूने पड़े पर्यटन स्थल फिर से गुलजार हो सकें।

Next Story
Share it