Top
Action India

चांद और मंगल की सतह पर पहला ध्वज अमेरिकी होः ट्रम्प

चांद और मंगल की सतह पर पहला ध्वज अमेरिकी होः ट्रम्प
X

वाशिंगटन। एएनएन (Action News Network)

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि वह अगामी चार साल में अंतरिक्ष में चांद पर मानव भेजने के लिए कृतसंकल्प हैं। उन्होंने कहा है कि इसके लिए अगले सप्ताह बजट में बारह प्रतिशत बढ़ोतरी का प्रस्ताव है। यह प्रस्ताव डेमोक्रेटिक बहुल प्रतिनिधि सभा के साथ-साथ रिपब्लिकन बहुल सीनेट से पारित करवाना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा, वह चाहते हैं कि चांद और मंगल की सतह पर पहला ध्वज अमेरिकी हो।

प्रस्तावित बजट में नासा के लिए सन 2021 के वित्त वर्ष के लिए 22.6 अरब डॉलर से बढ़ाकर 25.2 अरब डॉलर किए जाने का प्रस्ताव है। यह प्रस्तावित बजट ट्रम्प के ‘अंतरिक्ष सुरक्षा’ बजट से अलग है। इस अंतरिक्ष सुरक्षा का दायित्व अंतरिक्ष में पेट्रोलिंग करना और किसी भी बाह्य हमले से देश की रक्षा करना है।

यह बढ़ोतरी नेशनल एयरोनाटिक और स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) के लिए की जाएगी। उन्होंने कहा है, इस राशि में कुछ राशि मानव अंतरिक्ष यात्रियों को प्रशक्षित किए जाने पर व्यय होगी। ट्रम्प ने विश्वास व्यक्त किया है कि चंद्रमा और मंगल की सतह पर पहला झंडा अमेरिकी हो।

नासा के नए अंतरिक्ष कार्यक्रम में ‘अरटेमिस’ प्रोजेक्ट में सर्वप्रथम महिला को चांद पर भेजा जाएगा। नासा की दीर्घकालीन योजना में चांद पर स्थायी रूप से मानव की उपस्थिति और सन् 2030 में मंगल पर मानव अंतरिक्ष यात्री भेजे जाने की योजना है। ट्रम्प ने सत्ता ग्रहण करने के पश्चात अंतरिक्ष की खोज को प्राथमिकता दी है।

Next Story
Share it