Top
Action India

मोदीनगर में अवैध शराब पीने से दो लोगों की मौत, एक गंभीर, डीएम ने सौंपी जांच

  • डीएम ने एसडीएम,सीओ और आबकारी अधिकारी को सौंपी जांच

गाजियाबाद । एएनएन (Action News Network)

कोरोना संक्रमण के चलते भले ही लॉकडाउन घोषित हो, लेकिन गाजियाबाद जिले में अवैध शराब का धंधा रुकने का नाम नहीं ले रहा है। अवैध शराब पीने से मोदीनगर के बखरवा गांव में दो लोगों की मौत हो गयी जबकि एक की हालात गंभीर बताई जा रही है। उसे मेरठ रेफर कर दिया गया है। घटना से प्रशासन-पुलिस में हड़कंप मच गया और जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय व एसएसपी कलानिधि नैथानी मौके के लिये तत्काल रवाना हो गए। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने बताया कि शुरूआती जांच में इन लोगों के शराब नहीं मिलने पर सेनेटाइजर पीए जाना के बात भी सामने आ रही है। यह मामला संदिग्ध लग रहा है।

मामले की जांच मोदीनगर एसडीएम सौम्या पांडेय, पुलिस क्षेत्राधिकारी महिपाल सिंह और आबकारी विभाग के अधिकारी को संयुक्त रूप से सौंपी गयी है। विस्तृत जांच के बाद ही सही स्थिति का पता चल सकेगा। कहा कि जो भी दोषी मिलेगा उसके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। ग्रामीणों के अनुसार मोदीनगर थाना क्षेत्र के बखरवा गांव में रविवार को तीन लोगों ने शराब पी। शराब पीते ही उनकी हालात बिगड़ गयी और दो लोगों की मौत हो गयी। मरने वालों में बखरवा निवासी मृतक मंगत राम (62 वर्ष )पुत्र भुल्लन सिंह व कृष्णपाल उर्फ पासी (60 वर्ष ) पुत्र भगवान सिंह हैं।

विपिन पुत्र दयानंद की हालत गंभीर है और उसे मेरठ के सुभारती अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कुछ लोग उनके सेनेटाइजर पीने की बात भी कह रहे हैं । मृतक मंगतराम के पुत्र कविंद्र ने मीडिया को बताया कि उनके पिता व दो अन्य लोगों ने शराब पी थी जिसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ गयी थी। जब उससे पूछा गया कि लॉकडाउन के चलते उन्हें शराब कहा से मिली तो उसने बताया कि गांव में दो-तीन जगह पर शराब बिक रही थी वहीं से लेकर तीनों ने पी थी। कई गांव वालों ने भी शराब बिकने की बात कहीं। मरने वालों का बिना पोस्टमार्टम कराये ही अंतिम संस्कार करा दिया गया।

Next Story
Share it