Action India

उज्जैन: दो लापरवाह अधिकारी निलंबित, पांच को थमाया नोटिस

उज्जैन। एएनएन (Action News Network)

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए शासन-प्रशासन लगातार जुटा हुआ है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिये हैं कि इस कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जा जाएगी। इसी के चलते उज्जैन कमिश्नर आनंद शर्मा ने शुक्रवार को दो लापरवाह अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। वहीं, पांच अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किये गये हैं।

कोरोना संक्रमण की रोकथाम और बचाव के दृष्टिगत संभाग के सभी जिलों में अधिकारियों की विभिन्न व्यवस्थाओं एवं गतिविधियों में ड्यूटी लगाई गयी है, लेकिन सौंपी गयी ड्यूटी पूरी नहीं करने, आदेश की अवहेलना करने, कर्तव्य पर अनुपस्थित रहने एवं बिना सक्षम अनुमति के जिला मुख्यालय से अनुपस्थित रहने पररतनगढ़ के परियोजना अधिकारी बाल विकास मनोहरलाल घोघलिया और मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगर परिषद मल्हारगढ़ शैलेन्द्र अवस्थी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। इस संबंध में कमिश्नर ने शुक्रवार को आदेश जारी कर दिये हैं। वहीं, पांच अन्य अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर तीन दिन में जवाब तलब किया है।

रायसेन में भी सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी निलंबित

वहीं, रायसेन जिले में भी कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने कोरोना से बचाव को लेकर किए जा रहे कार्यो में लापरवाही बरतने के आरोप में सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है। कलेक्टर ने बताया कि पशुपालन उपकेन्द्र पैमत में पदस्थ सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी एचके बंझारी को ड्यूटी के दौरान लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित किया गया है। निलंबन अवधि में उनका मुख्यालय कार्यालय पशु चिकित्सालय बेगमगंज निर्धारित किया गया है तथा उन्हें निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।

Next Story
Share it