Action India
अन्य राज्य

उप्र में काफी छूट मिलेगी लेकिन अभी भीड़-भाड़ की अनुमति नहीं

उप्र में काफी छूट मिलेगी लेकिन अभी भीड़-भाड़ की अनुमति नहीं
X

  • योगी ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले साल को बताया ऐतिहासिक

लखनऊ । एएनएन (Action News Network)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को यहां कहा कि लाॅकडाउन के पांचवें चरण में लोगों को काफी छूट मिलेगी, लेकिन अभी भीड़-भाड़ (मॉस गेदरिंग) की अनुमति बिल्कुल नहीं रहेगी। उन्होंने बताया कि जोखिम (कंटेनमेंट) वाले इलाकों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आज वर्चुअल पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सोमवार से पूरे देश में लॉकडाउन का पांचवां चरण शुरु हो रहा है। इसी के साथ अनलॉक का भी पहला चरण प्रारम्भ होगा। योगी ने कहा कि इस संबंध में केंद्र द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करते हुए उप्र की जनता को भी काफी राहत दी जाएगी।

आवागमन से लेकर लगभग सभी गतिविधियों को शर्त के साथ शुरू किया जाएगा, लेकिन जोखिम भरे इलाकों में अभी भी सख्ती रहेगी। साथ ही कहीं भी सामाजिक कार्यक्रम एवं भीड़-भाड़ की इजाजत नहीं मिलेगी। योगी ने कहा कि लॉकडाउन के पांचवें चरण में चरणवार छूट दी जाएगी। आठ मई से धार्मिक स्थल खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि अभी भी लोगों को काफी सतर्क रहना होगा। मुख्यमंत्री ने विश्वास व्यक्त किया कि प्रदेश की जनता इस मामले में काफी जागरुक हो चुकी है। वह अब जान चुकी है कि हमें भी बचना है और दूसरों को भी बचाना है। उन्होंने कहा कि अभी भी 65 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों, गर्भवती महिलाओं और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को विशेष रुप से बचाना होगा।

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले साल को बताया ऐतिहासिक

पत्रकार वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री योगी ने नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल के प्रथम वर्ष को ऐतिहासिक बताया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने एक साल में जो काम किया, वे वर्षों से देश के लिए चुनौती बने हुए थे। योगी ने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को समाप्त करना, तीन तलाक की कुप्रथा का अंत, अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि का मुद्दा और नागरिकता संशोधन कानून के निर्णय इसके प्रमुख उदाहरण हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि वर्तमान में कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के संकट में देश का नेतृत्व कैसा हो, इसका प्रधानमंत्री मोदी ने अद्भुत एवं बेमिसाल उदाहरण प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि यह उनके नेतृत्व की कुशलता का नतीजा है कि कोरोना संक्रमण और मौत में मामले में भारत की स्थिति तमाम विकसित देशों की तुलना में बहुत अच्छी है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में प्रधानमंत्री मोदी ने पहले एक लाख करोड़ फिर 20 लाख करोड़ के जो दो पैकेज दिए वे उनकी दूरदर्शिता को दुनिया के सामने एक नजीर के रुप में पेश करते हैं। इन पैकेजों में उन्होंने सबसे अधिक प्रभावित तबके के हित पर सर्वाधिक ध्यान दिया।

योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश लगातार प्रगति के पथ पर आगे बढ़ रहा है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि मोदी के नेतृत्व में भारत दुनिया में महाशक्ति बनेगा। मुख्यमंत्री ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के प्रथम वर्ष पूरा होने पर प्रधानमंत्री और उनकी कैबिनेट के सभी सदस्यों को बधाई भी दी।

Next Story
Share it