Action India
अन्य राज्य

सौराष्ट्र में जलवायु परिवर्तन, लॉकडाउन में किसानों को एक और झटका

सौराष्ट्र में जलवायु परिवर्तन, लॉकडाउन में किसानों को एक और झटका
X

राजकोट । एएनएन (Action News Network)

तेज गर्मी के बीच सौराष्ट्र में जलवायु परिवर्तन हुआ और मौसम आज बदल गया। राजकोट, अमरेली, जूनागढ़, गीरसोमनाथ जिले में बेमौसम बारिश के साथ कहीं-कहीं ओलावृष्टि हुई। आकाशीय बिजली से एक किसान की मौत हो गई, जबकि दूसरा घायल है।

रविवार दोपहर गोंडल में वातावरण में अचानक परिवर्तन हुआ और रात होते-होते तेज हवा के साथ बारिश शुरू हो गई। उसके बाद ओलावृष्टि ने किसानों के सपनों पर पानी फेर दिया। ग्रीष्मकालीन फसलों को नुकसान पहुंचा है।गोंडल मार्केट यार्ड में किसानों की गेहूं, मूंगफली और धनिया की फसलें बरबाद हो गईं। किसानों ने सरकार से मुआवजे की मांग की है।

सोमवार की भोर में भी बारिश हुई है। गोंडल तहसील के किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। इस क्षेत्र में गर्मियों में मूंगफली, तिल, मग, उड़द, सब्जियां इत्यादि का उत्पादन किया जाता है। लेकिन वर्तमान में फसल लॉकडाउन के मद्देनजर बुरी तरह से प्रभावित हुई है। ऊपर से बारिश ने रही-सही कसर पूरी कर दी।

सावरकुंडला तहसील के विभिन्न गांवों में बारिश से वातावरण ठंडा हो गया है। इसके अलावा खंभा, बोरला, चकरावा, बाबरपारा, खाडाधार, नानूडी, भणिया, गिदार्डी पिपलवा सहित ग्रामीण क्षेत्रों में बे-मौसम बारिश ने आम और अन्य फसलों को भी नुकसान पहुंचाया है। बाजरा और प्याज की फसर को भी बड़ा नुकसान हुआ है।

Next Story
Share it