Top
Action India

बेमौसम बरसात आंधी तूफान से जनजीवन प्रभावित, वनोपज संग्रहण पर भी असर

सूरजपुर। एएनएन (Action News Network)

इन दिनों लगातार मौसम के बदलते मिजाज एवं आंधी तुफान के साथ हुई बारिश व ओलावृष्टि से आम जनजीवन काफी हद तक प्रभावित है। ग्रामीण क्षेत्रों के खेतों में खड़ी फसलो को नुकसान हुआ है। वहीं कई विशालकाय पेड़ों के बिजली पोल व मकान में गिर जाने से दर्जनो गांव में विद्युत आपूर्ति ठप्प पड़ी हुई है ।

भैयाथान क्षेत्र के सत्यनगर, बंजा,शिवप्रसादनगर, बड़सरा सहित अन्य गांवो में कई मकान क्षतिग्रस्त हुए है। ग्राम पंचायत कोटेया में शिक्षक श्री कालरे के घर के सामने खड़ी स्कार्पियो वाहन व बाइक के ऊपर ईमली का पेड़ गिर गया। जिससे दोनो वाहन बुरी तरह से क्षति ग्रस्त हो गए , वहीं दूसरी तरफ चांदनी -बिहारपुर के आसपास के गांवों में भी आंधी- बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की फसलो को काफी नुकसान हुआ है।

खेत व बाड़ी में लगी अरहर- जौ -चना- गेहूँ- सरसों समेत सब्जियों की फसल के साथ आम और मुनंगा भी चौपट हो गए है।इसके साथ -साथ वनोपज महुआ व तेंदूपत्ता को भी भारी नुकसान पहुंचा है । बिहारपुर क्षेत्र के गांव अवंतिकापुर -नवाटोला -सपहां, कुबेरपुर ,खालबहरा ,बिहारपुर ,महुली सहित अन्य आसपास गांवों में रहने वाले लोगो के लिए उक्त वनोपज आजीविका का मुख्य सहारा था ।

यहां के रहवासियों के अनुसार क्षेत्र में फसलो की क्षति के साथ वनोपज सें होने वाली उनकी आय का प्रमुख जरिया प्रभावित हुआ है, इससे संबंधित क्षति का अवलोकन कर मुआवजा दिलाए जाने की मांग है।वहीं दूसरी तरफ प्रशासनिक अमले के तरफ से प्रभावित क्षेत्रों में एसडीएम भैयाथान प्रकाश सिंह राजपूत बीती रात हुई ओलावृष्टि व तेज हवा से नुकसान की जानकारी लेने के लिए क्षेत्रों का दौरा स्वयं लगातार कर रहे हैं।

उन्होंने बताया है कि फसलों, मवेशियों सहित मकानों को हुए क्षति का आकलन के लिए रिपोर्ट तैयार करने के लिए पटवारियों को निर्देशित किया है। उन्होंने किसानों को भरोसा दिलाया कि उनकी जो भी नुकसान हुआ है उसका उचित मुआवजा दिया जाएगा।

Next Story
Share it