Top
Action India

उप्र में चौबीस घंटे में मिले कोरोना के 6,711 नए केस

उप्र में चौबीस घंटे में मिले कोरोना के 6,711 नए केस
X

  • सक्रिय मामलों की संख्या 64,028 पहुंची, अब तक 2.16 लाख मरीज हुए स्वस्थ

  • 11 जनपदों में सीरो सर्वे का काम पूरा, माह के अंत तक संक्रमण प्रतिशत की आएगी रिपोर्ट

लखनऊ । Action India News

प्रदेश में बीते चौबीस घंटे में कोरोना के 6,711 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या अब बढ़कर 64,028 हो गई है। वहीं अब राज्य में कुल 2,16,901 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। वहीं अब तक 4,112 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है।

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बुधवार को बताया कि राज्य के 11 जनपदों में सीरो सर्वे के अंतर्गत सैंपल एकत्र करने का काम आज पूरा हो गया। अब इसकी एंटीबॉडी के लिए टेस्टिंग की जाएगी और महीने के अंत तक हम बता पाएंगे कि इन 11 बड़े शहरों में संक्रमण का प्रतिशत क्या पाया गया है।

अब तक 69 लाख कोरोना नमूनों की हुई जांच

राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में मंगलवार को कुल 1,44,360 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इसके साथ ही प्रदेश अब कुल जांच का आंकड़ा 69,17,773 हो गया है।

2,300 पूल के जरिए 12,475 नमूनों की हुई जांच

उन्होंने बताया कि मंगलवार को 2,300 पूल के जरिए 12,475 नमूनों की जांच की गई। इनमें 2,105 पूल के जरिए प्रति पूल पांच-पांच नमूनों की जांच की गई, जिसमें 231 पूल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं 195 पूल के जरिए प्रति पूल दस-दस नमूनों की जांच की गई, जिसमें 14 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

अब तक 1.36 लाख लोगों ने होम आइसोलेशन की सुविधा का लिया लाभ

उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 33,731 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। इसके अलावा निजी अस्पतालों और होटल में एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी सुविधा का लाभ भी लोग उठा रहे हैं।

वहीं इनके अलावा शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। अभी तक कुल 1,36,300 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा का लाभ ले चुके हैं, जिनमें से 1,02,569 लोगों के इलाज का समय पूरा होने पर उन्हें डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है।

11.14 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें

स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 95,487 इलाकों में 3,33,665 टीमों ने 2,33,30,951 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 11,14,82,132 लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है।

प्रदेश में 64,432 कोविड हेल्प डेस्क स्थापित

प्रदेश में कुल 64,432 'कोविड हेल्प डेस्क' की स्थापना की जा चुकी है। इनके जरिए 7,27,796 लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई। इनमें ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध हैं। इन सभी इकाइयों में सैनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता की गई है।

प्रदेश में मृत्यु दर घटकर हुई 1.44 प्रतिशत

उन्होंने बताया कि कोरोना को लेकर केस फैटेलिटी रेट (सीएफआर) यानी मामलों में मृत्यु दर की बात करें तो अब यह घटकर अब 1.44 प्रतिशत हो गई है। वहीं मरीजों के तेजी से ठीक होने के फलस्वरूप रिकवरी का प्रतिशत भी बढ़ रहा है और अब यह लगभग 76.09 प्रतिशत हो गया है।

7,113 शिशुओं ने एक दिन में सरकारी अस्पतालों में लिया जन्म

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि राज्य में कोविड के साथ नॉन कोविड केयर पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। सरकारी अस्पतालों में प्रसव की सुविधाएं पहले की तरह मुहैया करायी जा रही हैं। 07 सितम्बर को प्रदेश में 7,113 शिशुओं ने सरकारी अस्पतालों में जन्म लिया। इनमें 6,865 नॉर्मल डिलीवरी और 248 सिजेरियन प्रसव हुए।

Next Story
Share it