Top
Action India

नड्डा की वर्चुअल रैली में बोले त्रिवेन्द्र, उत्तराखंड की जनता से किए 85 फीसदी वायदे पूरे

नड्डा की वर्चुअल रैली में बोले त्रिवेन्द्र, उत्तराखंड की जनता से किए 85 फीसदी वायदे पूरे
X

देहरादून । Action India News

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की वर्चुअल रैली में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आज प्रतिभाग किया। रैली में उन्होंने नड्डा को राज्य सरकार की तीन साल की उपलब्धियों और जनहित के कार्यों की विस्तार से जानकारी दी। कोरोना से निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों की भी जानकारी दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने अपने सवा तीन साल के कार्यकाल में 2017 के विजन डाक्यूमेंट में जनता से किए गए सभी महत्वपूर्ण 85 फीसदी वायदे पूरे कर दिए हैं। शेष 15 फीसदी वायदे भी जल्द पूरे करने के प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य की जनभावना का सम्मान करते हुए एजेंडे में शामिल महत्वपूर्ण संकल्प गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने की न केवल घोषणा की, बल्कि उसकी अधिसूचना भी जारी कर दी गई है। इससे राज्य की जनता में भाजपा के प्रति एक मजबूत विश्वास बना है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों को रोजगार और स्वरोजगार के लिए 20 लाख करोड़ का पैकेज घोषित किया है। राज्य सरकार ने भी प्रधानमंत्री की घोषणा के अनुरूप राज्य में रोजगार और स्वरोजगार के लिए अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। किसानों के लिए बिना ब्याज के ऋण की सीमा एक लाख से बढ़ाकर तीन लाख की गई है।

राज्य में 17 हजार से ज्यादा महिला समूह हैं। उन्हें 5 लाख तक ऋण बिना ब्याज के दिए जा रहा है। महिलाओं को स्वावलंबी बनाने और प्रधानमंत्री के लोकल के लिए वोकल के आह्वान का अनुसरण करते हुए हर न्याय पंचायत स्तर पर ग्रोथ सेंटर विकसित किए जा रहे हैं। अब तक 96 ग्रोथ सेंटर स्वीकृत कर दिए हैं। इससे स्थानीय किसानों के साथ ही महिला समूहों को अपने उत्पादों को उनके घर के समीप ही मार्केट मिल जाएगा।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत 150 से ज्यादा छोटे मोटे कार्यों को शामि्ल किया गया है। इस योजना में 10 लाख से 25 लाख तक ऋण दिया जा रहा है। इसमें 10 से 25 फीसदी तक सब्सिडी की व्यवस्था है। अटल आयुष्मान योजना में अब सभी कर्मचारियों और पेंशनरों को भी जोड़ दिया गया है।

बुजुर्ग पेंशनरों को हर साल दिए जाने वाले जीवित प्रमाण पत्र के लिए आन लाइन व्यवस्था की गई है। राज्य में ई-आफिस, ई-मंत्रिमंडल की व्यवस्था लागू कर दी गई है। सचिवालय में 16 विभागों को आन लाइन कर दिया गया है। अब जिला और ब्लाक स्तर पर भी ई-आफिस की व्यवस्था लागू की जा रही है। इससे लोगों को पारदर्शी और भ्रष्टाचार मुक्त शासन-प्रशासन मिलेगा। साथ ही नौकरशाही में लालफीताशाही भी खत्म होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 13 डिस्ट्रिक्ट 13 न्यू डेस्टिनेशन की योजना बनाई है। इसमें आध्यात्म, स्पोर्ट्स, वाटर स्पोर्ट्स, एडवेंचर स्पोर्ट्स , धार्मिक आदि के थीम आधारित योजना के तहत इन स्थानों पर काम किया जा रहा है। पिथौरागढ़ में ट्यूलिप गार्डन विकसित कर दिया गया है।

इन डेस्टिनेशन को विकसित करने के लिए डीपीआर के लिए 50-50 लाख की राशि जारी कर दी है। पौड़ी जिले में सीता माता का भव्य मंदिर बनाया जा रहा है। यहां पर जटायु का भी मंदिर बनेगा। मातृ शक्ति के सम्मान के के रूप में इस स्थल का चयन कर इसे विकसित करेंगे। गोवा की तर्ज पर मोटर बाईक टैक्सी के लिए 60 रुपए तक ऋण दिया जा रहा है। इसमें 10 हजार लोगों को इसका लाभ मिलेगा। दो साल तक राज्य सरकार इस ऋण का ब्याज चुकाएगी।

त्रिवेन्द्र ने कहा कि राज्य में 10 हजार लोगों को रोजगार देने के लिए मुख्यमंत्री सौर स्वरोजगार योजना भी शुरू की गई है। इसमें 25-25 किलोवाट तक के प्रोजेक्ट लगेंगे। लाभार्थियों से राज्य सरकार करीब 4.50 रुपए प्रति यूनिट बिजली खरीदेगी। इसमें भी 25 फीसदी तक सब्सिडी दी जाएगी।

बस और टैक्सी के लिए 50 फीसदी सब्सिडी दी जा रही है। आत्मनिर्भर भारत के तहत 20 हजार दुधारू गायें पशुपालकों को दी जा रही हैं। इसमें दूसरे राज्यों से गायें खरीदी जाएंगी। इससे राज्य में पशु भी बढे़ंगे और दूध भी बढ़ेगा। रोजगार के लिए सरकारी स्तर पर भी भर्तियां की जा रही हैं। कोरोना की स्थिति भी राज्य में बेहतर है।

वेंटीलेटर, आईसीयू बैड, पीपीई किट के इंतजाम पर्याप्त संख्या में किए गए हैं। कार्यकर्ताओं ने भी कोरोना के दौरान काफी सतर्कता बरतते हुए योगदान दिया। सीएम राहत कोष और पीएम केयर फंड में जनता के साथ ही कार्यकर्ताओं ने अच्छा सहयोग किया।

Next Story
Share it