Top
Action India

सरकार से व्यापारियों ने की सैलानियों के लिये उत्तराखण्ड के बॉर्डर खोलने की मांग

सरकार से व्यापारियों ने की सैलानियों के लिये उत्तराखण्ड के बॉर्डर खोलने की मांग
X

हरिद्वार । Action India News

कोरोना संकट से धर्मनगरी का व्यापार पूर्ण रूप से चौपट है। इससे मायूस व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों ने पूर्व कृषि उत्पादन मंडी समिति अध्यक्ष, संजय चोपड़ा के नेतृत्व में बड़ी पुरानी सब्जी मंडी स्थित कार्यालय पर बैठक कर परिस्थितियों से निपटने के लिये चर्चा की।

बैठक में सरकार से दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, पंजाब इत्यादि राज्यों की तरह कोरोना से बचाव के नियम व शर्तों का पालन करते हुये पूरे उत्तराखंड को सभी तीर्थयात्रियों व सैलानियों के लिए खोलने की मांग की गई। इसके लिये मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से पत्र लिखा जायेगा।

उन्होंने कहा कि ऐसा होने से उत्तराखंड सहित हरिद्वार का व्यापारी भी अपना कारोबार पूर्व की भांति संचालित कर सकेगा। उन्होंने कहा कि कोराेना के चलते हरिद्वार के हृदय स्थल मोती बाजार, बड़ा बाजार, भल्ला रोड, राम बाजार, पुरानी सब्जी मंडी, कुशा घाट, गऊघाट इत्यादि क्षेत्रों के व्यापारियों का अरसे से कारोबार बंद पड़ा है, जिससे व्यापारी आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं।

राज्य सरकार से मांग की गई कि तीर्थयात्री व सैलानियों को धर्मनगरी हरिद्वार सहित उत्तराखंड के अन्य क्षेत्रों में स्वतंत्र रूप से प्रवेश की अनुमति दी जाये। उन्होंने कहाकि अन्य राज्यों में व्यापारियों को व्यापार करने के लिए योजनाबद्ध तरीके से प्रोत्साहित कर योजनाएं चलाई जा रही हैं लेकिन उत्तराखंड के व्यापारियों के लिए कोराेना अभी भी अभिशाप बना हुआ है।

मोती बाजार व्यापार मंडल के वरिष्ठ व्यापारी नेता राजेश खुराना ने कहा कि तीर्थयात्रियों और सैलानियों के न आने से हरिद्वार में व्यापार चौपट हो गया है। व्यापारी दयनीय हालातों से गुजर रहे हैं। वे स्कूल की फीस, बिजली व पानी के बिल सहित अन्य टैक्स का भुगतान अदा नहीं कर पा रहे हैं। बैठक में राज्य सरकार से मांग की गई कि शीघ्र ही यात्रियों के आगमन व व्यापार संचालित करने के लिए उचित प्रबंधन किये जायें।

बैठक में नानकचंद साईं, राजेश कुमार, संजय भारद्वाज, हितेश कोठियाल, उदय मान जैस्वाल, हंसराज अरोड़ा, ऋषि खन्ना, छोटे लाल शर्मा, ओम प्रकाश, आरएस रतूड़ी, विजेंदर रावत, रवि अरोड़ा, मुकेश राणा और किशन लाल आदि मौजूद रहे।

Next Story
Share it