Action India
उत्तराखंड

कृषि कानूनों से किसानों की आय दोगुनी होगीः डॉ. धन सिंह रावत

कृषि कानूनों से  किसानों की आय दोगुनी होगीः डॉ. धन सिंह रावत
X
  • कहा- आंदोलन में किसान नहीं, बिचौलिये शामिल

नई टिहरी । एक्शन इंडिया न्यूज़

टिहरी जिला प्रभारी और उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में दिल्ली में जारी किसान आंदोलन पर तीखी टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि आंदोलन में किसान शामिल नहीं हैं। बिचौलिए आंदोलन को हवा दे रहे हैं। वही हो-हल्ला मचा रहे हैं, क्योंकि उनके हित प्रभावित हो रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों की आय दोगुनी करने का निर्णय लिया है। कृषि कानूनों से किसान मजबूत ही नहीं बल्कि समर्थ भी होगा।

उन्होंने कहा कि किसानों के प्रति चिंतित पीएम मोदी ने किसान सम्मान निधि की स्थापना कर रिकार्ड देश के साढ़े दस करोड़ किसानों को लाभान्वित किया है। 2014-15 के अनुपात में पीएम ने 6 गुना ज्यादा बजट 2020-21 किसानों के लिए दिया है, जो 1 लाख 34 हजार 399 करोड़ रुपये है। प्रदेश में साढ़े चार लाख किसानों को 26 करोड़ रुपये का बजट जारी किया गया है। किसानों के लिए बातचीत के दरवाजे लगातार खुले हैं। किसानों की समस्याओं के हर समाधान के लिए सरकार तैयार है।

उन्होंने कहा कि कृषि कानून लोकसभा व राज्यसभा में बाकायदा बहस के बाद पास हुए हैं। अब किसान अपनी उपज को कहीं भी बेच सकते हैं। एमएसपी बरकरार रहेगी। किसान को अनुबंध खेती में नुकसान नहीं झेलना पड़ेगा। किसानों का देश के विकास में अहम योगदान है। किसान के हितों के लिए केंद्र सरकार तत्पर है।

भाजपा कार्यालय में आहूत पत्रकार वार्ता में जिलाध्यक्ष विनोद रतूड़ी, टिहरी विधायक डॉ. धन सिंह नेगी, देव प्रयाग विधायक विनोद कंडॉरी, घनसाली विधायक शक्ति लाल शाह, प्रताप नगर विधायक विजय पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष सोना सजवाण, ओबीसी आयोग के उपाधयक्ष संजय नेगी, जिपंस रघुवीर सजवाण, प्रमुख सुनीता देवी, प्रमुख शिवानी विष्ट, भाजयुमो के जिलाध्यक्ष परमवीर पंवार, रवि सेमवाल, डॉ. प्रमोद उनियाल, दिनेश भट्ट, शीशराम थपलियाल आदि मौजूद रहे।

Next Story
Share it