Action India

मुझे नहीं पता कि कोरोना वायरस महामारी के बाद क्रिकेट कितना बदलेगा : कोहली

मुझे नहीं पता कि कोरोना वायरस महामारी के बाद क्रिकेट कितना बदलेगा : कोहली
X

नई दिल्ली । एएनएन (Action News Network)

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उन्हें वास्तव में नहीं पता है कि कोरोना वायरस महामारी के बाद क्रिकेट का खेल कितना बदलेगा। कोहली स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के साथ इंस्टाग्राम पर लाइव सत्र कर रहे थे। अश्विन ने जब उनसे पूछा कि कोरोना वायरस के बाद वह खेल को कितना बदलते हुए देखते हैं,जिस पर कोहली ने जवाब दिया कि खेल बहुत बदल रहा है। मैं नहीं जानता कि क्या होने जा रहा है, यह बहुत अजीब सोच है आप लंबे समय के बाद लोगों से मिलेंगे और आपको उनसे दूर रहना होगा। कोहली ने कहा , "मुझे पता है कि यह अजीब है, जब तक इस बीमारी का किसी तरह का इलाज या वैक्सीन नहीं निकलता है, तब तक हमें इस वायरस के साथ जीना सीखना होगा।" बता दें कि 22 मई को, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने खेल को फिर से शुरू करने के लिए 'बैक टू क्रिकेट दिशानिर्देश' की घोषणा की थी।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए प्रशिक्षण को फिर से शुरू करने के लिए आईसीसी ने कहा, "मुख्य चिकित्सा अधिकारी या बायोसैफिली के अधिकारी को नियुक्त करने पर विचार किया जा रहा है जो प्रशिक्षण और प्रतियोगिता को फिर से शुरू करने के लिए सरकारी नियमों और जैव सुरक्षा योजना को लागू करने के लिए जिम्मेदार होंगे।" आईसीसी ने टीम को कोरोनावायरस मुक्त बनाने के लिए यात्रा से पहले 14 दिनों के लिए स्वास्थ्य, तापमान की जाँच और कोविद-19 परीक्षण के साथ प्री-मैच आइसोलेशन प्रशिक्षण शिविर की आवश्यकता भी बताई है। आईसीसी ने कहा कि व्यक्तिगत उपकरणों का उपयोग, पहले और बाद में और सामाजिक दूरी का अभ्यास भी दिशा-निर्देशों का हिस्सा है।

खिलाड़ियों और अंपायरों को क्रिकेट के मैदान पर सामाजिक दूरी बनाए रखनी चाहिए और इसमें अंपायर या टीम के साथी खिलाड़ियों (टोपी, तौलिया, धूप का चश्मा, जंपर्स) को हाथ नहीं लगाना चाहिए। एक ऐसी प्रक्रिया को अपनाने पर विचार करें जो गेंदबाज को उसकी वस्तुओं के प्रबंधन में सहायता करेगी। गेंद को संभालते समय अंपायर को दस्ताने का उपयोग करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जा सकता है। बता दें कि कोरोनोवायरस के कारण मार्च से सभी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को निलंबित कर दिया गया है। हालांकि, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज इस साल जुलाई में 'जैव-सुरक्षित' वातावरण में तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला खेलने जा रहे हैं।

Next Story
Share it