Action India

जाफर-कार्तिक को भारत के लिए खेलने का और मौका मिलना चाहिए था : लक्ष्मण

जाफर-कार्तिक को भारत के लिए खेलने का और मौका मिलना चाहिए था : लक्ष्मण
X

नई दिल्ली । एएनएन (Action News Network)

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने रविवार को वसीम जाफर और मुरली कार्तिक की तारीफ करते हुए कहा कि इन खिलाड़ियों को भारत के लिए जितना खेलने का मौका मिलना चाहिए था उन्हें उतना मौका नहीं मिला है।

लक्ष्मण ने ट्वीटर पर जाफर और कार्तिक की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा,"इन दोनों खिलाड़ियों को भारत के लिए खेलने का उतना मौका नहीं मिला जितना उन्हें मिलना चाहिए था, लेकिन वसीम जाफर और मुरली कार्तिक ने रणजी ट्रॉफी और काउंटी क्रिकेट के जरिए इस खेल के लिए अपना प्यार बढ़ाया। वे एक ऐसी पीढ़ी के लीडर हैं जिन्होंने अपना क्रिकेट का भाग्य खुद लिखने का फैसला किया।"

वसीम जाफर ने भारत के लिए कुल 31 टेस्ट और दो एकदिवसीय मैच खेले हैं। जाफर ने 31 टेस्ट मैचों में दो दोहरे शतक, 5 शतक और 11 अर्धशतक सहित कुल 1944 रन बनाए हैं।
उन्होंने भारत के लिए आखिरी टेस्ट मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2008 में खेला था। जाफर रणजी ट्रॉफी में 11 हजार रन जड़ने वाले एकमात्र बल्लेबाज हैं।

वहीं, मुरली कार्तिक ने भारत के लिए 8 टेस्ट, 37 एकदिवसीय और एक टी20 मैच खेला था। इस दौरान उन्होंने कुल 61 विकेट झटके थे। प्रथम श्रेणी क्रिकेट में कार्तिक के 644 विकेट हैं। उन्होंने काउंटी क्रिकेट में लंकाशायर, मिडलसेक्स, समरसेट और सरे का प्रतिनिधित्व किया। बता दें कि पूर्व भारतीय बल्लेबाल लक्ष्मण इन दिनों ट्विटर पर एक श्रृंखला चला रहे हैं, जिसमें वह अपने साथ खेले पूर्व भारतीय खिलाड़ियों की विशेषता बताते हैं।

वसीम जाफर और मुरली कार्तिक से पहले उन्होंने इरफान पठान, गौतम गंभीर, आशीष नेहरा, महेन्द्र सिंह धोनी, जहीर खान, सचिन तेंदुलकर, वीरेन्द्र सहवाग, युवराज सिंह, सौरव गांगुली और हरभजन सिंह की विशेषता बता चुके हैं।

Next Story
Share it