Top
Action India

ट्रम्प इधर व्हाइट हाउस लौटे, उधर स्टाक मार्केट मारे ख़ुशी के उछल पड़ा

ट्रम्प इधर व्हाइट हाउस लौटे, उधर स्टाक मार्केट मारे ख़ुशी के उछल पड़ा
X

लॉस एंजेल्स । Action India News

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की एक ओर अस्पताल से छुट्टी हुई और वह सकुशल तीन दिन बाद व्हाइट हाउस लौटे, दूसरी ओर सोमवार को अमेरिकी स्टॉक मार्केट उछाल के साथ बंद हुआ।निवेशकों को उम्मीद बंधी है कि अब जल्दी ज़रूरतमंद उधोग व बेरोज़गारों को राहत पैकेज मिलेगा।

सोमवार को डॉव जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज 465.83 अंक अर्थात 1.7 प्रतिशत चढ़कर 28,148.64 पर बंद हुआ। एसएंडपी 500 1.8 प्रतिशत या 60.18 अंक बढ़कर 3,408.62 पर तथा नैस्डैक कंपोजिट 2.3 प्रतिशत या 257.47 अंक बढ़कर 11,332.49 अंक पर पहुंच गया।

राष्ट्रपति चुनाव के ठीक 27 दिन पहले सोमवार की दोपहर डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट में व्हाइट हाउस लौटने की इच्छा दोहराई थी कि स्टॉक्स अपने सत्र के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए। ट्रम्प ने ट्वीट में इतना कहा था कि वह शाम 6:30 बजे वाल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर छोड़ देंगे।

उल्लेखनीय है कि ट्रम्प के चिकित्सक डॉ सीन कॉनले ने मीडिया से कहा था कि सोमवार को राष्ट्रपति की स्थिति में पिछले 24 घंटे में सुधार जारी है, लेकिन आगाह किया कि वह पूरी तरह से अभी तक झंझावतों से उबर नहीं पाए हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति मंगलवार रात व्हाइट हाउस में एंटीवायरल ड्रग रेमेडिसविर की अपनी पांचवीं और अंतिम खुराक प्राप्त करेंगे।

दरअसल, वॉल स्ट्रीट शेयर मार्केट ट्रम्प को रविवार के दिन ‘डेक्सामेथासोन’ स्टेरॉयड दवा दिए जाने की ख़बर से चिंतित हो उठा था। यह स्टेरॉयड प्रायः कोविड -19 के गंभीर रोगियों को ही दी जाती है। राष्ट्रपति ट्रम्प को शुक्रवार की दोपहर निदान की घोषणा के बाद उन्हें ऑक्सीजन की ज़रूरत महसूस हुई थी।

राहत पैकेज पर गंभीर वार्ता :

उधर कांग्रेस के निचले सदन में डेमोक्रेट बहुल प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैन्सी पेलोसी और ट्रेजरी सेक्रेटरी स्टीवन मेनुचिन ने सोमवार को फिर एक घंटे तक फोन पर बातचीत की। प्रतिनिधि सभा पिछले सप्ताह 2.2 खरब डालर की राहत पैकेज दिए जाने के संबंध में एक विधेयक पहले ही पारित कर चुकी है, जबकि ट्रम्प प्रशासन में ट्रेजरी सेक्रेटरी स्टीवन मेनुचिन इतनी बड़ी राशि और इसमें से किसे कितना पैकेज दिया जाए, इस पर मामला फंसा हुआ है। अमेरिकी एयरलाइन उद्योग कोरोना काल में सर्वाधिक प्रभावित हुआ है।

Next Story
Share it