Top
Action India

गजराज की चपेट में आने से महुआ बीनने जा रही महिला की मौत

गजराज की चपेट में आने से महुआ बीनने जा रही महिला की मौत
X

सूरजपुर । एएनएन (Action News Network)

लाकडाउन में आज भोर में ही गजराज ने महुआ बीनने जा रही एक महिला को कुचल कर मार दिया है।उक्त घटना प्रतापपुर क्षेत्र के ग्राम कोटेया की है।यहां भोर में 4 बजे महुआ बीनने निकली महिला को दंतैल हाथी ने पटककर मार डाला। मृतक महिला के साथ गई अन्य महिलाओं ने बामुश्किल वहां से भागकर जान बचाई है। कुल मिलाकर कोरोना की दहशत तो दूसरी ओर क्षेत्र में गजदल की मौजूदगी ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है।

मिली जानकारी के अनुसार शनिवार भोर में 4 बजे ग्राम कोटया नौकापारा निवासी भुनेश्वर रजवार की पत्नी विमला उम्र 25 वर्ष अपने घर से कुछ दूरी पर लगे जंगल में महुआ बीनने निकली थी, इस दौरान उसके साथ गांव की कुछ और भी महिलाएं थी। सभी गांव से लगे जंगल में पहुंचकर महुआ बीनने लगे, इसी दौरान अकेला विचरण कर रहा दंतैल हाथी वहां पहुंच गया।

जिसको देखकर बाकी महिलाएं तो भागने में सफल हो गई, परंतु विमला नहीं भाग सकी और वह दंतैल हाथी की चपेट में आ गई। इधर जान बचा कर भागने में सफल हुई महिलाओं ने गांव में इसकी सूचना दी। उजाला होने पर जब ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचे तो उन्हें विमला का क्षत-विक्षत शव मिला। उन्होंने इसकी सूचना वन विभाग को दे दी है।

इधर विभाग से मिली जानकारी के अनुसार दंतैल हाथी कल रात में चांचीडांड, टुकुडांड क्षेत्र में अन्य दो हाथी के साथ विचरण कर रहा था, जिसके कोटया क्षेत्र में आने की संभावना नहीं थी। विभाग, पलढा तरफ विचरण कर रहे 15 हाथी के दल पर निगरानी रखे हुए था, जो बंशीपुर क्षेत्र में पहुंच चुका है। घटना की सूचना के बाद विभाग ने मामले में अपनी कार्रवाई आरंभ कर दी है।उक्त दंतैल हाथी पिछले कुछ दिनों से अपने दल से अलग होकर अकेले क्षेत्र में भ्रमण कर रहा है। फिलहाल प्रतापपुर रेंज में अलग-अलग दल में कुल 18 हाथी भ्रमण कर रहे है।

Next Story
Share it