अन्य राज्यमध्य प्रदेश

मैसेज में दूल्हे के पहली शादी के सबूत भी भेजे गए, विवाह समारोह के दौरान द्वारचार से पहले ही दूल्हा भागता हुआ नजर आया

टीकमगढ़
देहात थाना क्षेत्र के कारी तिगैला के पास स्थित यदुवंशी मैरिज गार्डन से एक शादी समारोह चर्चा का विषय बन गया है। यहां विवाह समारोह के दौरान द्वारचार से पहले ही दूल्हा भागता हुआ नजर आया। दरअसल विवाह की तैयारियों के बीच जब खाना-पीना चल रहा था, तभी अचानक दूल्हे की शादी पहले भी हो जाने मैसेज रिश्तेदारों के मोबाइल पर आने लगे। इन मैसेज में पहली शादी के सबूत भी भेजे गए।

जवाब नहीं दे पाया वर पक्ष
इस खुलासे के बाद जब युवक और उसके पिता से लड़की पक्ष ने कई सवाल किए, लेकिन वर पक्ष इसका जवाब नहीं दे सके। इसके बाद वधु पक्ष से लड़की के भाई ने देहात थाना पहुंचकर पूरे मामले की शिकायत की तो पुलिस ने दूल्हा बनने वाले युवक और उसके पिता के खिलाफ धोखाधड़ी और दहेज अधिनियम की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

ये है पूरा मामला
लड़की पक्ष उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले में जाखलौन थाना क्षेत्र का रहने वाला है। लड़की के भाई ने पुलिस को बताया कि कारी के रहने वाले अरविंद पुत्र लालाराम विश्वकर्मा से करीब 4 माह पहले से ही उसकी बहन की शादी को लेकर बातचीत चल रही थी। भाई ने बताया कि बातचीत के बाद बहन की शादी कारी के रहने वाले अरविंद विश्वकर्मा से 9 जुलाई 24 की तय हुई। शादी तय होने के बाद लड़की पक्ष के लोग कारी तिगैला के पास स्थित मैरिज गार्डन में पहुंच गए, जहां पर मंडप और जयमाला के लिए स्टेज सज चुका था और खाना शुरू हुआ। लेकिन जयमाला होने से पहले ही विवाद खड़ा हो गया।

पहली शादी का सर्टिफिकेट व फोटो वायरल
शादी समारोह के दौरान ही रिश्तेदारों के मोबाइलों में अरविंद की पूर्व में शादी होने के प्रमाण वाट्सअप पर प्रसारित होने लगे। इसमें 2021 में उज्जैन की रहने वाली एक लड़की के साथ अरविंद विश्वकर्मा की शादी होने की फोटो, मैरिज सर्टिफिकेट, आर्य समाज मंदिर का प्रमाण पत्र और रसीदें जैसे ही लड़की पक्ष के रिश्तेदारों के मोबाइल में आईं, तो वह आश्चर्यचकित रह गए।

लड़की के भाई ने कहा, सोने की चेन और बाइक मांगी
लड़की के भाई ने आरोप लगाया कि अरविंद के पिता लालाराम विश्वकर्मा ने सोने की चेन, दहेज में अलमारी, कूलर, सोफा, पलंग, बाइक की मांग की थी। इसके बाद ही लगुन लेकर पहुंचने पर सामग्री के अलावा 2100 रुपये दिए। उन्होंने आरोप लगाया कि युवक और उसके पिता पूर्व की शादी की बात न बताकर छल व धोखा देकर दहेज के रूप में आर्थिक लाभ लेने के लिए मेरी बहन से दूसरी शादी करना चाहते थे। उन्होंने कहा कि शादी की तैयारी और बसों के खर्चों सहित करीब डेढ़ लाख रुपये का खर्च आया है। पुलिस ने शिकायत के बाद आरोपी अरविंद विश्वकर्मा और उसके पिता लालाराम विश्वकर्मा के विरुद्ध धारा 318 (2), 318(4) बीएनएस के साथ ही दहेज प्रतिषेध अधिनियम की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button