Select Page

शिक्षा विभाग के अधिकारियों के निकम्मेपन का परिणाम भुगत रहे अध्यापक : संघ

शिक्षा विभाग के अधिकारियों के निकम्मेपन का परिणाम भुगत रहे अध्यापक : संघ

हिसार/टीम एक्शन इंडिया
लगभग पूरा फरवरी माह गुजर जाने के बावजूद अभी तक अध्यापकों को वेतनमान नहीं दिया जाना सरकार तथा अधिकारियों के निकम्मेपन का उदाहरण है। हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ न केवल इसकी निंदा करता है बल्कि अब अध्यापक काले बिल्ले लगाकर अध्यापन कार्य करेंगे। यह बात अध्यापक संघ के के वरिष्ठ नेताओं ने मंगलवार को अध्यापकों को वेतन न मिलने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही। संघ के राज्य महासचिव प्रभु सिंह, राज्य कार्यालय सचिव जयबीर सिंह, जिला सचिव पवन कुमार, उप प्रधान प्रमोद जांगड़ा, सह सचिव दिनेश शर्मा, ब्लॉक हिसार प्रथम के प्रधान संदीप मीरकां, सचिव विनोद प्रभाकर व हिसार द्वितीय के प्रधान बलजीत सिंह ने कहा कि यह सब विभाग के अधिकारियों के निक्कमेपन् का उदाहरण है।
उन्होंने कहा कि जिस ई पोस्टिंग डाटा के पूर्ण न होने के कारण अध्यापकों का वेतन रोका गया है, उसकी जिम्मेवारी उच्च स्तर पर बैठे विभागीय अधिकारियों की है ना कि अध्यापकों की। अध्यापकों को बेवजह दो महीने से वेतन रोक कर परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर वेतन रोकना ही है तो उन जिम्मेवार अधिकारियों का रोका जाए जिनकी वजह से ई-पोस्टिंग डाटा पूरा नहीं हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ ने इस मामले में फैसला लिया है कि जब तक अध्यापकों का वेतन जारी नहीं कर दिया जाता तब तक पूरे प्रदेश के अध्यापक काले बिल्ले लगाकर अपना अध्यापन का कार्य करेंगे। यदि फिर भी हरियाणा सरकार द्वारा जल्द से जल्द अध्यापकों का वेतन जारी नहीं किया जाता तो आने वाले समय में बड़े आंदोलन की घोषणा की जाएगी, जिसकी सारी जिम्मेवारी हरियाणा सरकार की होगी।

Latest News

Advertisement

Advertisement