हरियाणा

फरीदाबाद : कैदी को भगाने व शरण देने वाले तीन आरोपित गिरफ्तार

फरीदाबाद: बीके अस्पताल से फरार विचाराधीन कैदी नवीस को भगाने व शरण देने वाले तीन आरोपितों को क्राइम ब्रांच 65 और ऊंचा गांव की टीम ने गिरफ्तार किया है. फरार आरोपितों को शनिवार को पुलिस ने पलवल से गिरफ्तार किया है.

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपितों में कैदी नवीस, दोस्त आकाश, साला योगेश, तथा एक अन्य दोस्त धर्मेंद्र उर्फ मुखिया का नाम शामिल है. आकाश नीमका तथा योगेश यूपी के दनकौर में स्थित गढ़ी बांजरपुर और धर्मेंद्र दनकौर में स्थित लीलखा गांव का रहने वाला है. वर्ष 2021 केहत्या के मुकदमे में सजा काट रहे आरोपित नवीस को इलाज के लिए बीके अस्पताल लाया गया था, जहां 13 जून को आरोपित पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था.

डीसीपी क्राइम मुकेश मल्होत्रा ने आरोपित की धरपकड़ के निर्देश दिए थे. क्राइम ब्रांच की टीम हरियाणा और यूपी में 4 दिन तक लगातार छापेमारी करती रही. आरोपित की धरपकड़ के लिए क्राइम ब्रांच की टीमों द्वारा सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए और कई स्थानों पर दबिश दी गई. सीसीटीवी में पुलिस को आरोपित आकाश, नवीस को नीमका के आसपास गाड़ी में ले जाता हुआ दिखाई दिया.

क्राइम ब्रांच की टीम ने मामले में आगे कार्रवाई करते हुए आरोपित आकाश को गिरफ्तार किया. जिसने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह आरोपित को बिलासपुर छोड़ कर आया था, जहां पर वह अपने साले योगेश और दोस्त धर्मेंद्र उर्फ मुखिया के पास शरण ले रखी है.

सूचना पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम आरोपित की धरपकड़ के लिए बिलासपुर पहुंची, लेकिन आरोपित धर्मेंद्र उर्फ मुखिया ने आरोपित कैदी नवीश को पुलिस की गिरफ्त से बचाने के लिए वहां से निकाल दिया. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपित धर्मेंद्र उर्फ मुखिया को बिलासपुर से तथा आरोपित आकाश को नीमका से गिरफ्तार करके अदालत में पेश करके जेल भेज दिया.

गिरफ्तार आरोपितों द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर आरोपित योगेश और फरार आरोपित नवीश को आज पलवल से गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपित नवीस के खिलाफहत्या , हत्या का प्रयास लड़ाई झगड़ा अवैध हथियार इत्यादि धाराओं के तहत 6 मुकदमे दर्ज हैं. आरोपित ने वर्ष 2021 में तिगांव के एक व्यक्ति कीहत्या कर दी थी जिसका मुकदमा अदालत में विचाराधीन है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button